Home >> Stories about life >> Baba Ji jo Kareinge Acha Kareinge

Baba Ji jo Kareinge Acha Kareinge

एक आदमी की नई नई शादी हुई और वो अपनी पत्नि के साथ कहीं से वापिस आ रहा था ! रास्ते में वो दोनों एक बडी झील को नाव द्वारा पार कर रहे थे, तभी अचानक एक भयंकर तूफ़ान आ गया |

वो आदमी वीर था लेकिन औरत बहुत डरी हुई थी क्योंकि हालात बिल्कुल खराब थे | नाव बहुत छोटी थी और तूफ़ान वास्तव में भयंकर था और दोनों किसी भी समय डूब सकतेथे |

वो आदमी चुपचाप, निश्चल और शान्त बैठा था जैसे कि कुछ नहीं होने वाला हो, औरत डर के मारे कांप रही थी और वो बोली क्या तुम्हें डर नहीं लग रहा?

ये हमारे जीवन का आखिरी क्षण हो सकता है | ऐसा नहीं लगता कि हम दूसरे किनारे पर कभी पहुंच भी पायेंगे | अब तो कोई चमत्कार ही हमें बचा सकता है वर्ना हमारी मौत निश्चित है |

क्या तुम्हें बिल्कुल डर नहीं लग रहा? कहीं तुम पागल वागल या पत्तथर वत्तथर तो नहीं हो?

वो आदमी खूब हँसा और एकाएक उसने म्यान से तलवार निकाल ली? औरत अब और परेशानहो गई कि वो क्या कर रहा था? तब वो उस तलवार को उस औरत की गर्दन के पास ले आया, इतना पास कि उसकी गर्दन और तलवार के बीच फासला बिल्कुल कम बचा था क्योंकि तलवार लगभग उसकी गर्दन को छू रही थी|

वो अपनी पत्नि से बोला क्या तुम्हें डर लग रहा है ?

पत्नि हँसी और बोली – जब तलवार तुम्हारे हाथ में है तो मुझे क्या डर? मैं जानती हुँ कि तुम मुझे बहुत प्यार करते हो | उसने तलवार वापिस मयान में डाल दी और बोला कि यही मेरा जवाब है |

मैं जनता हुँ कि भगवान मुझे बहुत प्यार करता है और ये तूफ़ान उसके हाथ में है | इसलिए जो भी होगा अच्छा ही होगा ! अगर हम बच गये तो भी अच्छा और अगर नहीं बचे तो भी अच्छा, क्योंकि सब कुछ उस परमातमा के हाथ में है और वो कभी कुछभी गलत नहीं कर सकता |

वो जो भी करेगा हमारे भले के लिए करेगा ।

शिक्षा :-हमेशा विश्वास बनाये रखो ! व्यक्ति को हमेशा उस परमपिता परमात्मा पर विश्वास रखना चाहिये जो हमारे पूरे जीवनको बदल सकता है.

Connect with Us

Loading Facebook Comments ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*